चीनी (शक्कर) के खतरनाक नुकसान जान जाओगे तो खाना छोड़ दोगे! क्या खाएं इसके बदले?

चीनी (शक्कर) के खतरनाक नुकसान जान जाओगे तो खाना छोड़ दोगे! क्या खाएं इसके बदले?:-
दोस्तों, आज के इस आर्टिकल चीनी (शक्कर) के खतरनाक नुकसान जान जाओगे, तो इसे खाना छोड़ दोगे क्या खाएं इसके बादले? में आपका बहुत-बहुत स्वागत है। आज के इस आर्टिकल में मैं आपको चीनी जिसे शक्कर या रिफाइंड शुगर भी कहा जाता है, उसके कुछ खतरनाक नुकसान के बारे में बताऊंगा।

चीनी (शक्कर) के खतरनाक नुकसान जान जाओगे तो खाना छोड़ दोगे! क्या खाएं इसके बदले?

पुराने समय से लेकर के अब तक हमारे खाने-पीने की चीजों में काफी बदलाव आ चुका है। पहले वैसे भोजन का इस्तेमाल किया जाता था जो हमारे स्वास्थ्य के लिए अच्छी होती थी, हमारे शारीरिक स्वास्थ्य को ध्यान में रखकर के ही  भोजन के इस्तेमाल किया जाता था। लेकिन आजकल हम वैसे चीजों का इस्तेमाल ज्यादा कर रहे हो जो देखने में अच्छी लगती हैं और खाने में स्वादिष्ट लगती हैं। आज बाजार में ऐसे खाने पीने की बहुत सारी चीजें उपलब्ध है जिनका इस्तेमाल करने से हमारे स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। यह जानते हुए कि इनके खाने से हमारे स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है, फिर भी हम उनका सेवन करते हैं।  बहुत सारे लोगों को इन के दुष्प्रभाव की जानकारी नहीं है, और बहुत सारे लोग लापरवाही में ऐसा करते हैं।


दोस्तों, चीनी भी एक ऐसा खाद्य पदार्थ है जो हमारे शरीर के लिए बहुत ही ज्यादा नुकसानदेह साबित हो सकती है। चीनी हमारे भोजन में मिठास लाने के लिए प्रयोग किया जाता है। लेकिन आपको विश्वास नहीं होगा कि आज संसार में होने वाली 60 परसेंट  बीमारियों की मुख्य वजह है यह चीनी या शक्कर ही है। इस चीनी से होने वाली बीमारियों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है।
बहुत सारे लोगों को चीनी के क्या नुकसान होते हैं, उसके बारे में जानकारी नहीं है, या बदले हुए लाइफस्टाइल, खाने पीने के तरीके की वजह से इसका इस्तेमाल बहुत ही ज्यादा बढ़ गया है।

आज चीनी का प्रयोग ज्यादा करने की वजह से टाइप टू शुगर की बीमारी (type 2 Diabetes), मोटापा, फैटी लीवर, ब्लड प्रेशर, हार्ट डिजीज और सेक्सुअल विकनेस जैसी बीमारियां बहुत ही चीज तेजी से बढ़ रही है। आखिर चीनी इतना खतरनाक क्यों है? स्वास्थ्य की दृष्टि से ठीक क्यों नहीं है?

चीनी का निर्माण गन्ने(Sugar cane) के रस से किया जाता है। गन्ने के रस से चीनी का क्रिस्टल बनने तक के प्रोसेस में, गन्ने के रस के जो प्राकृतिक गुण होते हैं वह नष्ट हो जाते हैं। इस प्रोसेस में बहुत सारे केमिकल्स का इस्तेमाल किया जाता है, जो केवल गन्ने के मिठास को बरकरार रखते हैं, उसके जो प्रोटीन, विटामिंस और मिनरल्स होते हैं, उन को नष्ट कर देते हैं। इस तरह से गन्ने के रस से जो चीनी बनती है, वह केवल केमिकल और मिठास देने वाली वस्तु बन कर रह जाती है।

ऐसे में जब भी हम चीनी का सेवन करते हैं तो हमारे शरीर में इसका पाचन  ढंग से नहीं हो पाता है, जिसकी वजह से मोटापा, शुगर लेवल का बढ़ जाना, स्किन में फोड़े-फुंसी, एक्ने पिंपल्स और स्किन में झुर्रियां का आना जैसे तरह-तरह की बीमारियां होने लग जाती है।

ज्यादा चीनी के इस्तेमाल से फैटी लीवर होने की संभावना बहुत ही ज्यादा बढ़ जाती है। चीनी के इस्तेमाल से बनाई गई मिठाईयां और कोल्ड ड्रिंक्स हमें  टाइप टू डायबिटीज की सौगात दे सकती हैं। ज्यादा चीनी के सेवन हमारे शरीर में इंसुलिन लेवल को प्रभावित करती हैं। इसके साथ ही यह हमारे दांतो के लिए बहुत ही ज्यादा नुकसानदेह साबित होती है। दाँतों का पीला होना, पायरिया और दांतों में सड़न जैसी तकलीफ  बहुत ही ज्यादा बढ़ जाती है।

दोस्तों, चीनी में कुछ ऐसे तत्व होते हैं जो हमारे दिमाग को प्रभावित करते हैं। अगर आप चीनी खाना या मीठा खाना ज्यादा पसंद नहीं करते हैं। अगर आप एक बार चीनी या चीनी से बनी कोई चीज खाना स्टार्ट करते हैं, तो इसकी आदत लग जाती है आपको हमेशा मीठी चीजे खाने का मन होता है। इसतरह से बार-बार मीठा खाने की आदत हमें मोटापे की ओर धकेलती है। जब एक बार मोटापा आ जाता है, तो मोटापे के वजह से ब्लड प्रेशर, ब्लड शुगर, किडनी और हार्ट से जुड़ी समस्याएं शुरू हो जाती है।इसका हमारे संपूर्ण शरीर पर बहुत ही प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है।


तो ऐसे में सवाल यह उठता है कि चीनी ना खाए तो उसके बदले क्या खाए?

आज मैं आपको ऐसी 5 चीजों के बारे में बताऊंगा, जिनका इस्तेमाल आप चीनी के बदले में कर सकते हैं।  इनका इस्तेमाल सभी तरह के खाने पीने की चीजों में किया जा सकता है। इनका हमारे शरीर पर कोई भी प्रतिकूल प्रभाव नहीं पड़ता है।

धागे वाली मिश्री या देसी खांड




चीनी के जगह पर आप मिश्री यानी देशी खांड का इस्तेमाल कर सकते हैं। मिश्री का निर्माण प्राकृतिक तरीके से किया जाता है। ध्यान रखें कि आप जब भी मिश्री लें तो धागे वाली मिश्री ही लें, जो आपको किसी पंसारी की दुकान में बहुत ही आसानी से मिल जाएगी। मिश्री का उपयोग पुराने जमाने से किया जाता रहा है, लेकिन चीनी आ जाने की वजह से मिश्री को लोग आज भूल ही गए हैं।मिश्री हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही फायदेमंद होती है। मिश्री का इस्तेमाल बहुत सारी आयुर्वेदिक दवाओं के साथ करने की सलाह दी जाती है। इसकी तासीर ठंडी होती है जो हमारे शरीर को ठंडक प्रदान करती है। खाने-पीने की सभी तरह की वस्तुओं में इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।

कोकोनट शुगर



इसे भी पढ़े-RO Water पीने के जानलेेवा नुुुकसान

कोकोनट शुगर का भी निर्माण प्राकृतिक तरीके से किया जाता है। इसमे किसी भी तरह के केमिकल प्रोसेस का  इस्तेमाल नहीं किया जाता है। कोकोनट पेड़ के तने से निकलने वाले रस को प्राकृतिक तरीके से प्रोसेस करके कोकोनट शुगर  बनाया जाता है। कोकोनट शुगर में बहुत सारे खनिज, विटामिंस और मिनरल्स होते हैं जो हमारे शरीर को प्राकृतिक पोषण देते हैं। कोकोनट शुगर का इस्तेमाल आप चीनी की जगह पर, सभी खाद्य वस्तुओं में कर सकते हैं। कोकोनट शुगर आपको किसी भी जनरल स्टोर, सुपर स्टोर , मॉल में या ऑनलाइन बहुत ही आसानी से मिल जाएगी।

डेट(खजूर) शुगर



खजूर से बने हुए शुगर को डेट शुगर कहा जाता है। यह भी बिल्कुल प्राकृतिक होता है। इसको भी बनाने के लिए किसी  तरह का कोई भी केमिकल का इस्तेमाल नहीं किया जाता है। इसका इस्तेमाल चाय या कॉफी में नहीं किया जा सकता क्योंकि इसका एक अपना स्वाद होता है लेकिन मिठाइयों, हलवा और दूध में इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। डेट शुगर में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, विटामिंस मिनरल्स और एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जो हमारी हड्डियों को मजबूत बनाते हैं। पाचन शक्ति को मजबूत बनाते हैं। इससे हमारा शरीर हेल्दी बनता है।

 गुड़ या मीठा


गुड़ का भी इस्तेमाल चीनी या शुगर की जगह पर किया जा सकता है। इसकी तासीर गर्म होती है इसलिए इसका इस्तेमाल सर्दियों  बहुत फायदेमंद रहता है। गुड हमारे स्वास्थ्य की दृष्टि से बहुत ही अच्छा होता है। इसमें प्रोटीन, कैल्शियम, पोटेशियम, विटामिंस और मिनरल्स होते हैं जो हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही अच्छे माने जाते है।
जिनके शरीर में कफ की अधिकता होती है उन के लिए गुड़ का सेवन बहुत ही फायदेमंद होता है। गुड़ का सेवन लीवर की सफाई करने के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। यह हमारे शरीर से टॉक्सिन को भी बाहर निकालता है।

इसे भी पढ़े- तेजी से वजन घटाने के 7 सबसे असरदार नुस्खे

रॉ हनी(Unrefined Honey)



Raw Honey मिठास के लिए एक बहुत ही अच्छा विकल्प है। चीनी के जगह पर इसका का इस्तेमाल किया जा सकता है। आजकल मार्केट में बहुत सारे कंपनियों के द्वारा रिफाइंड हनी सेल किया जा रहा है, रॉ हनी से बिल्कुल अलग होती है। आप मार्केट से उस हनी को खरीदें जिस पर unrefined honey  या Raw Honey लिखी हुई हो।  Raw Honey स्वास्थ्य की दृष्टि से बहुत ही अच्छा होता है। यह स्किन में होने वाली एलर्जी से छुटकारा दिलाता है। वेट मैनेजमेंट में भी इसका इस्तेमाल किया जाता है।

इस तरह से इस आर्टिकल में बताए गए मिठास देने वाली खाद्य वस्तुओं का इस्तेमाल अलग-अलग खाने की चीजों में चीनी की जगह पर किया जा  सकता है। इन चीजों का इस्तेमाल कर आप चीनी से हमेशा के लिए छुटकारा पा सकते है।

तो दोस्तों, आज के इस आर्टिकल में आपने चीनी खाने के क्या-क्या जानलेवा नुकसान हो सकते हैं, और चीनी के जगह पर आप कौन सी चीजों का इस्तेमाल कर सकते हैं। उसके बारे में जानकारी प्राप्त की है। उम्मीद करता हूं आज की दी गई जानकारी आपके जीवन में अभूतपूर्व बदलाव लाने में मदद करेगा। इस आर्टिकल से रिलेटेड कोई प्रश्न या सुझाव हो तो आप मुझे कमेंट कर सकते हैं मुझे बहुत खुशी होगी। तो मिलते हैं फिर नए आर्टिकल में। इस आर्टिकल को पूरा करने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

Previous
Next Post »