कोल्ड ड्रिंक्स गटकने वालों इसका नुकसान आपको भारी पड़ेगा!

कोल्ड ड्रिंक्स गटकने वालों इसका नुकसान आपको भारी पड़ेगा!
आप जो कोल्ड ड्रिंक पीते हैं उसके बारे में आप कितना जानते हैं?
आखिर क्या होता है कोल्ड ड्रिंक्स में?
 क्या है कोल्ड्रिंक्स की सच्चाई?



कोल्ड ड्रिंक पीने के चौंकाने वाले नुकसान शायद आप नहीं जानते होंगे। आज के इस आर्टिकल में, कोल्ड ड्रिंक पीते ही हमारे शरीर में क्या-क्या खतरनाक प्रभाव होते है उसके बारे में चौकाने वाले खुलासे करूँगा जिसको जानकर आप को कोल्डड्रिंक्स से होने वाले खतरनाक प्रभाव पर विश्वास नहीं होगा। आजकल कोल्ड ड्रिंक्स का इस्तेमाल बहुत ही तेजी से बढ़ रहा है। बहुत सारे लोगों को कोल्ड ड्रिंक्स के नुकसान के बारे में पता है फिर भी लोग लापरवाही से कोल्ड ड्रिंक्स का धड़ल्ले से इस्तेमाल कर रहे हैं।
कोल्ड ड्रिंक्स गटकने वालों इसका नुकसान आपको भारी पड़ेगा!


क्या होता है कोडड्रिंक्स या सॉफ्टड्रिंक्स में

टेलीविजन पर आने वाले कोल्ड ड्रिंक्स के आकर्षक विज्ञापनों के वजह से कोल्ड ड्रिंक पीने की इच्छा हो ही जाती है। खासकर गर्मियों के मौसम में लोग कोल्ड ड्रिंक का इस्तेमाल प्यास बुझाने और शरीर को ठंडा रखने के लिए करते हैं। लेकिन सभी तरह के कोल्ड ड्रिंक्स में कार्बोनेटेड वाटर, शुगर, हार्मफुल एसिड्स और आर्टिफिशियल कलर्स बहुत ही अधिक मात्रा में होते हैं, जो हमारे शरीर को ठंडा करने के बजाए पेट में एसिड की मात्रा बढ़ा देते हैं। साथ ही शरीर का शुगर लेवल भी बढ़ा देते हैं। जो लोग ज्यादा कोल्ड ड्रिंक्स का सेवन करते हैं उनको पता भी नहीं चलता है कि उनके शरीर में होने वाली स्वास्थ्य समस्याओं की मुख्य वजह कोल्डड्रिंक्स ही है।

कोल्ड ड्रिंक्स का प्रभाव

सभी तरह के कोल्ड ड्रिंक्स में हानिकारक तत्व होते हैं जो इसके पीते हैं हमारे शरीर पर असर दिखाना शुरू कर देते हैं। सभी तरह के कोल्ड ड्रिंक्स में बहुत बड़ी मात्रा में चीनी का इस्तेमाल किया जाता है। एक 300 एमएल के कोल्ड ड्रिंक्स में लगभग 30 से 40 ग्राम चीनी का इस्तेमाल किया जाता है। जब हम 300ML का एक कोल्ड ड्रिंक्स पीते हैं तो लगभग है 30 से 40 ग्राम चीनी 10 मिनट के अंदर हमारे शरीर में चला जाता है, जो हमारी दिनभर की जरूरत से भी ज्यादा होती है।
इसे भी पढ़े:-आयुर्वेद के साइड-इफेक्ट्स
                 RO पानी पीना हो सकता है जानलेवा
            ज्यादा पानी पीना बन सकता है मौत का कारण
           पिले दांत सफेद बनाये त्रिफला
           

शरीर मे चर्बी बढ़ना

एकबार में चीनी की इतनी ज्यादा मात्रा जब हमारे शरीर में जाती है तो हमारे शरीर का ग्लूकोज लेवल एकदम से बढ़ जाता है। कोल्ड ड्रिंक पीते समय हमें इसकी मिठास का अनुभव नहीं होता है क्योंकि इसमें फास्फोरिक एसिड मिलाया जाता है जो इसके मिठास को कम कर देता है। कोल्ड ड्रिंक पीने के बाद हमारे शरीर में ग्लूकोज की मात्रा बढ़ जाती है इसके पाचन के लिए इंसुलिन का फ्लो बहुत ज्यादा बढ़ जाता है। इस प्रक्रिया को हमारा लीवर हैंडल नहीं कर पाता है। लिवर इतनी ज्यादा मात्रा में ग्लूकोस को  पचा नहीं पाता है और इसको चर्बी में बदलकर हमारे शरीर में इकट्ठा कर देता है। ज्यादा कोल्ड ड्रिंक पीने वाले मोटापे के शिकार हो जाते हैं।

कोल्डड्रिंक्स की आदत होना

इसके अलावे कोल्ड ड्रिंक्स में सिगरेट, चाय और कॉफी के जैसे कैफीन पाया जाता है। कोल्ड ड्रिंक पीने के 40 मिनट के अंदर कैफीन हमारे शरीर में घुल हो जाता है जिससे हमारे आंखों की पुतलियां फैलने लग जाती हैं। कोल्ड ड्रिंक पीने के बाद सिगरेट, कॉफी और चाय की तरह हमारा नींद उड़ने लगती है। आलस खत्म हो जाता है, हम पहले से ज्यादा एक्टिव महसूस करने लगते हैं। इस दौरान हमारे शरीर का ब्लड प्रेशर भी बढ़ जाता है जिससे हमें ज्यादा फुर्ती का अहसास होता है। कोल्ड ड्रिंक पीने के 50 मिनट बाद हमारे दिमाग में खुशी प्रदान करने वाली डोपामाइन हार्मोन की मात्रा बढ़ने लगती है जिससे हमें अच्छा लगने लगता है। एक तरह की ख़ुशी का एहसास होता है। यह उसी तरह है जिस तरह कोई नशा करने के बाद हमें अच्छा लगने लग जाता है। इसतरह हमारा दिमाग बार-बार उसी चीज को मांग करने लगता है और धीरे-धीरे हमें उसकी आदत पड़ जाती है।


हड्डियां और मांसपेशियों का कमजोर होना

कोल्ड ड्रिंक लेने के 1 घंटे के दौरान इसमें मौजूद फास्फोरिक एसिड अपना असर दिखाना शुरू कर देता है। शरीर में मौजूद कैल्शियम, मैग्नीशियम और जिंक जैसे आवश्यक पोषक तत्व को छोटी आत में भेजने लग जाता है। थोड़ी देर बाद हमें पेशाब करने जाना ही पड़ता है, इस तरह से हमारे शरीर में मौजूद पानी और कोल्ड ड्रिंक्स के रूप में ली गई पानी एक दम से निकल जाती है। कोल्ड ड्रिंक्स के अंदर कैफीन और फास्फोरिक एसिड की मात्रा बहुत ज्यादा होती जो हमारे शरीर में मौजूद कैल्शियम मैग्नीशियम और जिंक की मात्रा को कम कर देता है जिससे हमारी हड्डियां और मांसपेशियां कमजोर पड़ने लगती हैं।

डिहाइड्रेशन होना

इस तरह से एक बार में इतने आवश्यक पोषक तत्वों की हमारे शरीर में कमी हो जाती है और हमारा शरीर कमजोर पड़ने लगता है। हमारे शरीर में थकावट आने लगती है। शरीर से पानी निकल जाने के बाद हमारे शरीर में डिहाइड्रेशन हो जाती है। आपने ध्यान दिया होगा की कोल्ड ड्रिंक पीने के 1 घंटे बाद हमें जोर से प्यास लगती है। ये डिहाइड्रेशन के वजह से ही होती है। आप सोच सकते हैं की प्यास बुझाने के लिए पी जाने वाली कोल्ड ड्रिंक्स हमारे शरीर को सुखाकर रख देती है।

खतरनाक बीमारियों की वजह

कोल्ड ड्रिंक या सॉफ्ट ड्रिंक बनाने के लिए किसी भी तरह के प्राकृतिक फलों का इस्तेमाल नहीं किया जाता है। कुछ कोल्ड्रिंक्स पर यह लिखा भी होता है। कोल्डड्रिंक्स या सॉफ्ट ड्रिंक को पोषक तत्वों के नजरिए से देखा जाए तो इनमे ऐसा कुछ भी नहीं होता जो हमारे शरीर के लिए फायदेमंद हो। कोल्ड ड्रिंक्स के ज्यादा सेवन से दांतो, हड्डियों, मांसपेशियों के कमजोर होने के साथ BP, ब्लड शुगर, हार्ट डिजीज और पेट में एसिडिटी जैसी गंभीर बीमारियां हो सकती हैं। फिर भी लोग इससे शौक से पीते हैं।

कोल्डड्रिंक्स का नशा

जिनको कोल्ड ड्रिंक पीने की आदत हो जाती है वह इसे किसी भी मौसम में बिना पिए नहीं रह सकते हैं। कोल्ड ड्रिंक्स खरीदना एक बीमारी खरीदने के बराबर ही है। इसलिए इसे तंबाकू, सिगरेट, चाय और कॉफी की तरह हानिकारक पदार्थ की तरह ही देखना चाहिए। आजकल शराब में कोल्ड ड्रिंक मिलाकर के पीने का चलन बहुत ज्यादा बढ़ गया है। कोल्ड ड्रिंक्स में शराब मिलाकर पीने से लीवर सिरोसिस होने का खतरा बहुत ज्यादा बढ़ जाता है, क्योंकि कोल्ड ड्रिंक्स में मौजूद केमिकल्स शराब से होने वाले नुकसान को दुगना कर देते हैं।

कोल्डड्रिंक्स या सॉफ्टड्रिंक्स का इस्तेमाल बंद करे
कोल्ड ड्रिंक्स गटकने वालों इसका नुकसान आपको भारी पड़ेगा!

हर कोई चाहता है कि वह अपने मनपसंद का चीज खाए लेकिन स्वाद में अच्छी लगने वाली चीजें हमारे स्वास्थ्य के लिए कितनी फायदेमंद है यह भी जानना बहुत जरूरी है। इसलिए खाने पीने के लिए हमें प्राकृतिक चीजों का यूज करना चाहिए। अच्छी सेहत के लिए हमें ताजे फलो, सब्जियों और फलों के जूस के साथ दूध और दूध से बनी हुई चीजों का सेवन करना चाहिए। हमें चाय, कॉफी और कोल्ड ड्रिंक का सेवन कम से कम करना चाहिए या उसे छोड़ देनी चाहिए।
तो इसी के साथ उम्मीद करता हूं आज की दी गई जानकारी आपके जीवन में अभूतपूर्व परिवर्तन लाने में मदद करेगा। यह आर्टिकल आपको कैसा लगा इसके बारे में कमेंट करके मुझे जरूर बताएं। ज्यादा से ज्यादा लोगों तक इस जानकारी को पहुंचाने के लिए इस आर्टिकल को शेयर करना नहीं भूले। धन्यवाद।
Previous
Next Post »